CBI Full Form In Hindi – CBI के बारे में पूरी जानकारी 2022

Spread the love

आपमें से सभी लोगों ने CBI का नाम तो जरूर सुना होगा और आपमें से कुछ लोग सीबीआई के बारे में थोड़ा बहुत जानते भी होंगे। लेकिन क्या जानते हैं की ‘CBI Full Form in hindi’ क्या होता है?

आप सभी को सीबीआई का नाम अक्सर टीवी या न्यूज़पेपर पर जरूर सुनने को मिलता होगा। सीबीआई वाले सभी तरह के घोटालों और धोखाधड़ी की जाँच करते हैं और उनपर करवाई करते हैं।

अगर आपको भी नहीं पता है की सीबीआई का फुल फॉर्म क्या होता है और अगर आप सीबीआई के बारे में सभी जानकारी के लिए हमारे पोस्ट पर आए हैं तो आप बिल्कुल सही पोस्ट पर आए हैं।

आज के इस आर्टिकल में आपको सीबीआई से रिलेटेड बहुत कुछ सीखने को मिलेगा जैसे – CBI Ka Full Form, CBI full form in hindi, सीबीआई में जाने के लिए योग्यता क्या है, सीबीआई की सालाना सैलरी कितनी होती है, आदि।

अगर आप सीबीआई से रिलेटेड सारी जानकारी जानने के लिए हमारे ब्लॉग पर आए हैं तो आप हमारे द्वारा लिखे इस आर्टिकल को पूरा पढ़िए ताकि आपको भी इसके बारे में सब कुछ अच्छे से पता चल सकें।

CBI Full Form In Hindi

CBI Ka Full Form –

CBI का फुल फॉर्म ‘Central Bureau of Investigation‘ होता है।

C – Central

B – Bureau of

I – Investigation

CBI Full Form In Hindi –

CBI का फुल फॉर्म हिंदी में ‘केंद्रीय जांच ब्यूरो‘ होता है।

सीबीआई क्या है? (CBI Kya hai)

सीबीआई भारत की एक जांच एजेंसी हैं जो राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर होने वाले अपराध जैसे की घोटाला, भ्रष्टाचारी, हत्या, आदि की जाँच करती है।

CBI की स्थापना साल 1941 में हुयी थी और सीबीआई को केंद्रीय जांच ब्यूरो के पूरा नाम से जाना जाता है।

सीबीआई अपने काम को बहुत ही जिम्मेदारी और ईमानदारी के साथ पूरा करती है और सीबीआई किसी भी केस को जाँच करने के लिए पूरी तरह से स्वतंत्र होती है।

ये अपने केस की जाँच किसी भी तरह से और कहीं से भी कर सकती है और इनके बीच में कोई नहीं आ सकता है, ये अपने काम अपने तरीकों से करती है।

सीबीआई विभाग को छोटे-छोटे केस की जाँच करने के लिए नहीं बोला जाता है और ये राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के बड़े-बड़े अपराधों की जाँच करते हैं।

सीबीआई के कार्य क्या होते हैं?

सीबीआई के द्वारा बहुत सारे कार्य किये जाते हैं जिनमें से कुछ काम इस प्रकार हैं –

  • सीबीआई साइबर अपराधों के साथ-साथ आर्थिक अपराध जैसे की धोखाधड़ी, तस्करी, आदि के खिलाफ भी लड़ती है।
  • सीबीआई राष्ट्रीय हित, अपहरण, सामूहिक हत्या, जबरन वसूली, मुठभेड़, आदि सम्बंधित अपराधों के ऊपर जांच करती है।
  • सीबीआई जांच में मदद करने वाले व्हिसल ब्लोअर को पूरी तरह से सुरक्षा प्रदान करती है।
  • इसके द्वारा अंतराष्ट्रीय या राष्ट्रीय के अंदर आने वाले सभी अपराध के ऊपर भी जाँच करती है।

सीबीआई बनने के लिए योग्यता –

CBI बनने के लिए उम्मीदवार के कई योग्यता देखी जाती है जिनमें से कुछ योग्यता इस प्रकार हैं –

  • CBI बनने के लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट होना जरुरी है और इसमें कम से कम 55% अंक होने जरुरी है।
  • CBI बनने के लिए जनरल वर्ग के लिए आयु सीमा 20-30 वर्ष रखी गयी है, OBC वर्ग के लिए आयु 20-33 वर्ष और SC/ST वर्ग के उम्मीदवारों की आयु सीमा 20-35 वर्ष राखी गयी है।

सीबीआई का इतिहास –

सीबीआई की स्थापना साल 1941 में एक विशेष पुलिस प्रतिष्ठान के रूप में की गयी थी और उसके बाद साल 1963 में इसका नाम सेंट्रल ब्यूरो ऑफ़ इन्वेस्टीगेशन रख दिया गया।

सीबीआई के प्रथम अध्यक्ष ‘न्यायमूर्ति श्री रंगनाथ मिश्रा’ थे और डीपी कोहली सीबीआई के पहले निदेशक थे। अभी वर्तमान में सीबीआई के अध्यक्ष ‘सुबोध कुमार जयसवाल’ जी हैं।

सीबीआई को पारदर्शी जांच के लिए जाना जाता है और सीबीआई को अपनी तरफ से सभी तरह की एक्शन लेने की मंजूरी दी गयी होती है।

साल 1987 में CBI के दो जांच भागों में बांटा गया था जिसमें एक भ्रष्टाचार निरोध प्रभाग और दूसरे में विशेष अपराध प्रभाग के रूप में विभाजित किया गया।

सीबीआई में पदों की रैंकिंग –

सीबीआई की पदों की रैंकिंग कुछ इस प्रकार है –

  • Constable
  • Head Constable
  • Sub Inspector
  • Assistant sub-inspector
  • Inspector
  • Additional superintendent of police
  • Superintendent of police
  • Senior superintendent of police
  • Deputy Inspector general of Police
  • Additional Director
  • Joint Director
  • Director

CBI और CID के बीच क्या अंतर है?

  • CBI की स्थापना 1941 में विशेष पुलिस प्रतिष्ठान के रूप में की गयी थी जबकि CID की स्थापना ब्रिटिश सरकार के द्वारा 1902 में की गयी थी।
  • CBI राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के घोटालों, धोखाधड़ी, जैसे मामलों की देश और विदेश में जांच करती है, जबकि CID राज्यों में होने वाले आपराधिक मामलों जैसे दंगा, हत्या, अपहरण, और हमले के मामलों में जांच करती है।
  • CBI को मामले केन्द्र सरकार, हाई कोर्ट और सर्वोच्च न्यायलय द्वारा सौंपे जाते हैं, जबकि CID के सारे मामले राज्य सरकार और हाई कोर्ट द्वारा सौंपा जाता है।
  • CBI के ऑपरेशन का क्षेत्र बड़ा होता है, जबकि CID के ऑपरेशन का क्षेत्र छोटा होता है।
  • CBI बनने के लिए SSC बोर्ड द्वारा आयोजित परीक्षा में पास करना होता है, जबकि CID बनने के लिए राज्य सरकार द्वारा आयोजित की जाने वाली पुलिस परीक्षा पास करने के बाद अपराध-विज्ञान की परीक्षा पास करनी होगी।

FAQs: CBI Ka Full Form

Q: सीबीआई का मतलब क्या होता है?

Ans: CBI का मतलब ‘Central Bureau of Investigation’ होता है।

Q: सीबीआई की स्थापना कब हुई?

Ans: सीबीआई की स्थापना 1 अप्रैल 1999 में हुई थी।

Q: सीबीआई का मुख्यालय कहाँ है?

Ans: सीबीआई का मुख्यालय ‘नई दिल्ली’ में स्थित है।

Q: सीबीआई के प्रथम अध्यक्ष कौन थे?

Ans: सीबीआई के प्रथम अध्यक्ष ‘न्यायमूर्ति श्री रंगनाथ मिश्रा’ थे।

Q: सीबीआई के वर्तमान अध्यक्ष कौन है?

Ans: सीबीआई के वर्तमान अध्यक्ष ‘सुबोध कुमार जयसवाल’ जी हैं।

Q: सीबीआई अधिकारी की सैलरी कितनी होती है?

Ans: सीबीआई अधिकारी की सैलरी सभी पद के लिए अलग अलग होते हैं।

आज आपने क्या सीखा –

आज के इस आर्टिकल में हमनें CBI के बारे में बहुत कुछ जाना हैं, हमने CBI ka full form, CBI meaning in hindi, CBI full form in hindi, CBI ka pura naam, CBI kya hai, CBI में जाने के लिए योग्यता, इत्यादि के बारे में बात किया है।

मुझे उम्मीद है की इस article में बताये गए CBI से रिलेटेड सारी जानकारी आपको समझ आ गए होंगे और अब आपको CBI के बारे में सब कुछ पता चल गया होगा।

अगर आप मुझसे CBI से सम्बंधित कोई भी सवाल पूछना चाहते हैं तो आप नीचे comment कर के पूछ सकते हैं और अगर कोई सुझाब देना चाहते हैं तो भी आप बता सकते हैं।

अगर आपको इस आर्टिकल से कुछ नई जानकारी प्राप्त हुई हो तो आप अपने सोशल मीडिया और दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

इसी तरह की और जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस ब्लॉग Fullformcollection.com पर हर दिन visit करते रहें।

Read Also –

Leave a Comment