Civil Engineer Kaise Bane? – सिविल इंजीनियरिंग के बारे में पूरी जानकारी 2022

Spread the love

नमस्कार दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में आपका स्वागत है। आज मैं आपलोगों को सिविल इंजीनियरिंग के बारे में सारी जानकारी बताने वाला हूँ। आज आप जानेंगे की civil engineer kya hota hai, civil engineer kaise bane और इससे रिलेटेड सभी जानकारी।

ऐसे कई सारे स्टूडेंट्स होते हैं जो आगे चलकर इंजीनियर बनना चाहते हैं और कई बच्चे ऐसे भी होते हैं जिन्हे ये भी पता होता है की हमें कौन से ब्रांच का इंजीनियर बनना है।

अगर आप एक सिविल इंजीनियर बनना चाहते हैं या सिविल इंजीनियर के बारे में सारी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो बिल्कुल सही जगह आए हैं।

आज के इस आर्टिकल में आपको केवल सिविल इंजीनियरिंग ब्रांच के बारे में ही सभी जानकारी मिलने वाली है जैसे civil engineer kya hota hai, civil engineer kaise bane, civil engineer meaning in hindi, civil engineering ka kya kaam hota hai, आदि।

इसलिए आप इस आर्टिकल को शुरू से लेकर अंत तक पुरे ध्यान से पढ़िए ताकि आपको सिविल इंजीनियर के बारे में सारी जानकारी अच्छे से पता चल सकें।

Table Of Contents

सिविल इंजीनियरिंग क्या है? (Civil engineer kya hota hai)

सिविल इंजीनियरिंग एक ब्रांच है जो इंजीनियरिंग कोर्स के अंदर आता है और इसमें आपको सड़कों, पुलों, नहर, हवाई अड्डों और कई सारी चीजों के डिजाइन और निर्माण के काम सिखाये जाते हैं।

सिविल इंजीनियरिंग की कोर्स आप डिप्लोमा और ग्रेजुएशन दोनों तरह से कर सकते हैं और अगर आप सिविल इंजीनियरिंग की कोर्स किसी अच्छे IIT और NIT कॉलेज से करते हैं तो आपको जॉब भी अच्छी लग जाती है।

Civil engineer meaning in hindi

सिविल इंजीनियर का मतलब हिंदी में ‘असैनिक अभियंत्रण’ होता है और सिविल इंजीनियरिंग के अंदर आपको बिल्डिंग, पूल, सड़क जैसे निर्माणों के बारे में सीखना होता है।

आप सिविल इंजीनियरिंग की कोर्स दो तरह से कर सकते हैं जिनमे एक है क्लास 10th के बाद डिप्लोमा करके कोर्स पूरा कर सकते हैं और दूसरा क्लास 12th के बाद ग्रेजुएशन करके आप इस कोर्स को पूरा कर सकते हैं।

क्लास 10th के बाद सिविल इंजीनियरिंग का कोर्स करने के लिए पॉलिटेक्निक कॉलेज से डिप्लोमा कर सकते हैं जिनमे 3 साल का समय लगता है और इसे पूरा करने के बाद आप Junior Civil Engineer बन जाते हैं।

अगर आप क्लास 12th के बाद सिविल इंजीनियर बनना चाहते हैं तो आपको क्लास 12th के बोर्ड एग्जाम में पास होकर एंट्रेंस एग्जाम में क्वालीफाई करना होगा तभी जाकर आप IIT और NIT जैसे कॉलेज से इस कोर्स को पूरा कर पाएंगे।

सिविल इंजीनियर कैसे बने? (Civil engineer kaise bane)

Civil Engineer Kaise Bane

1. Class 10th के बाद डिप्लोमा –

अगर आप क्लास 10th के बाद सिविल इंजीनियरिंग की कोर्स करना चाहते हैं तो आपको किसी भी पॉलिटेक्निक कॉलेज से सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कर सकते हैं।

इसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम में क्वालीफाई करना होगा और इस कोर्स की कुल अवधि 3 साल की है यानि की आपको ये कोर्स 3 साल में पूरी हो जायेगी।

2. Class 12th में साइंस और मैथ्स सब्जेक्ट में पास करना –

अगर आप क्लास 12th के बाद सिविल इंजीनियरिंग करना चाहते हैं तो आपको क्लास में फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ्स सब्जेक्ट्स होने जरुरी हैं और आपको बोर्ड में पास होना भी जरुरी है।

3. एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना –

जब आप क्लास 12th के एग्जाम में पास हो जाते हैं तब उसके बाद इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए Jee-Mains और Advance जैसे एग्जाम में क्वालीफाई करना होता है।

जब आप इस एग्जाम में क्वालीफाई हो जाते हैं तब जाकर आप B-Tech कर सकते हैं और इसमें सिविल इंजीनियरिंग ब्रांच को चुन सकते हैं। इसमें आपको IIT और NIT जैसे कॉलेज से इस कोर्स को करने का मौका मिल जाता है।

अगर आप एंट्रेंस एग्जाम में क्वालीफाई नहीं भी कर पाते हैं तो आप किसी अच्छे प्राइवेट कॉलेज से इस कोर्स की तैयारी कर सकते हैं।

4. ग्रेजुएशन पूरी करना –

जब आपका एडमिशन कॉलेज में हो चूका हो तो अब आपको B-Tech करना होगा जो एक बैचलर डिग्री है और ये कोर्स 4 साल में पूरी होती है। जिसमे आपको इस कोर्स से रिलेटेड सभी चीज़ें सिखाई जाती है और आपको प्रैक्टिकल नॉलेज भी दिया जाता है।

5. ग्रेजुएशन के बाद इंटर्नशिप करना –

सिविल इंजीनियरिंग कोर्स पूरी करने के बाद अब आपको इस कोर्स की डिग्री मिल जायेगी जिसके बाद आपको इंटर्नशिप करनी होगी जिसमें आपको सारी चीज़ें प्रक्टिकली सीखायी जाएगी।

इंटर्नशिप करते समय आपको वो सभी काम सिखाये जाएंगे जो आपको जॉब करते समय करना होगा ताकि आपको थोड़ा बहुत एक्सपीरियंस मिल सकें।

सिविल इंजीनियर क्यों और किसे बनना चाहिए?

अब बात आती है किन लोगों को सिविल इंजीनियर बनना चाहिए और क्यों बनना चाहिए तो मैं इसका एक सीधा सा आंसर देना चाहता हूँ की केवल उन लोगों को ही ये कोर्स करना चाहिए जो किसी भी तरह के बिल्डिंग, पूल, सड़क, आदि के निर्माण और डिज़ाइन में इंटरेस्ट है।

आपको सिविल इंजीनियरिंग कोर्स करने से पहले आपको देख लेना चाहिए की हमारे अंदर वो सभी गुण है जो एक सिविल इंजीनियर बनने के लिए चाहिए होता है। जिसे निचे आर्टिकल में बताया गया है की हमारे अंदर वो कौन से सभी गुण होने चाहिए।

ऐसे कई सारे स्टूडेंट्स होते हैं जो एग्जाम में कम रैंकिंग होने के कारण सिविल इंजीनियरिंग ब्रांच चुन लेते हैं लेकिन आपको ऐसा नहीं करना चाहिए क्यूंकि अगर आपकी रूचि इन सभी में नहीं होगी तो आप बोरिंग महसूस करने लग जाएंगे।

सिविल इंजीनियर की योग्यता

  • क्लास 12th के साइंस सब्जेक्ट में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स होना चाहिए।
  • सिविल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन करने के लिए क्लास 12th में पास होना जरूरी है।
  • क्लास 12th के बाद अच्छे कॉलेज से सिविल इंजीनियरिंग करने के आपको JEE Mains और Advance जैसे एग्जाम क्वालीफाई करने होंगे।

सिविल इंजीनियर बनने के लिए स्टूडेंट्स के अंदर होने वाले गुण या स्किल्स –

  • थिंकिंग पावर
  • क्रिएटिविटी
  • एनालिटिकल थिंकिंग
  • प्रैक्टिकल नॉलेज
  • टीम वर्क
  • प्लानिंग
  • कम्प्यूटर स्किल
  • प्रेशर हैंडलर

Civil Engineering Subjects

  • Coastal Engineering
  • Urban Engineering
  • Structural Engineering
  • Construction Engineering
  • Forensic Engineering
  • Transportation Engineering
  • Outside Plant Engineering
  • Material Science Engineering
  • Geotechnical Engineering
  • Environment Engineering
  • Earthquake Engineering

Best Civil Engineering Colleges in India 2022 –

  • Indian Institute of Technology, New Delhi
  • Indian Institute of Technology, Roorkee
  • Indian Institute of Technology, Mumbai
  • Indian Institute of Technology, Ahmedabad
  • Delhi Technological University, New Delhi
  • Manipal Institute of Technology, Manipal
  • Vellore Institute of Technology(VIT)
  • SRM University, Chennai
  • National Institute of Construction Management and Research, New Delhi
  • Government Polytechnic, Delhi
  • Government Polytechnic, Mumbai
  • Birla Institute of Technology (Bits), Ranchi
  • Chandigarh University
  • Indian Institute of Science, Bangalore

सिविल इंजीनियर की फीस?

जैसा की मैंने आपको बताया की आप सिविल इंजीनियरिंग दो तरह से कर सकते हैं जिसमें से एक 3 साल की डिप्लोमा कोर्स है और दूसरा 4 साल की ग्रेजुएशन कोर्स है।

अगर आप पॉलिटेक्निक कॉलेज से डिप्लोमा करते हैं तो आपको ग्रेजुएशन के मुकाबले काम फीस लगती है लेकिन आप इस कोर्स को करने के बाद एक जूनियर सिविल इंजीनियर बनते हैं।

हर कॉलेज या यूनिवर्सिटी का अपना अलग-अलग फीस होता है इसलिए ये बताना मुश्किल होगा की एक कॉलेज की कितनी फीस होती है। गवर्नमेंट और प्राइवेट दोनों कॉलेज की फीस अलग अलग होती है।

सिविल इंजीनियर के पद?

  • Civil engineer
  • Construction plant engineer
  • Assistant Engineer
  • Technician
  • Planning engineer
  • Supervisor
  • Executive engineer

सिविल इंजीनियर की सैलरी?

अगर आपने क्लास 10th के बाद किसी पॉलिटेक्निक कॉलेज से डिप्लोमा किया है तो आपको प्राइवेट जॉब में शुरूआती सैलरी 10 से 15 हजार रूपये हर महीने मिल सकती है।

अगर आप किसी सरकारी सेक्टर में सिविल इंजीनियर हैं तो आपको शुरूआती सैलरी 35 से 40 हजार रुपए हर महीने मिल सकती है।

अगर आपने क्लास 12th के बाद JEE जैसे एग्जाम में क्वालीफाई करके किसी IIT या NIT कॉलेज से पढाई करी है तो आपको प्राइवेट सेक्टर में शुरुआती सैलरी 20 से 30 हजार रूपये प्रति महीने की सैलरी मिल सकती है।

अगर आप ग्रेजुएशन करके किसी सरकारी सेक्टर में सिविल इंजीनियर हैं तो आपको शुरूआती सैलरी 50 से 60 हजार रुपए हर महीने मिल सकती है।

सिविल इंजीनियर के काम? (Civil engineering ka kya kaam hota hai)

  • बिल्डिंग्स बनवाना
  • सड़क बनवाना
  • पुल बनवाना
  • 2D और 3D ड्रॉइंग डिज़ाइन करना
  • सभी मटेरियल की क्वालिटी चेक करना
  • रिस्क एनालिसिस करना

FAQs: Civil engineer in hindi

Q: सिविल इंजीनियरिंग कोर्स करने में कितना समय लगता है?

Ans: सिविल इंजीनियरिंग कोर्स डिप्लोमा में 3 साल लगता है और ग्रेजुएशन में 4 साल का समय लगता है।

Q: सिविल इंजीनियरिंग कोर्स करने में कितना फीस लगता है?

Ans: सिविल इंजीनियरिंग कोर्स की फीस हर कॉलेज की अलग-अलग होती है।

Q: सिविल इंजीनियरिंग कोर्स करने के बाद कितनी सैलरी मिलती है?

Ans: सिविल इंजीनियरिंग कोर्स करने के बाद आपको सरकारी नौकरी में प्राइवेट की तुलना ज्यादा सैलरी मिलती है।

आज आपने क्या सीखा –

आज के इस आर्टिकल में हमनें civil engineer kya hota hai, civil engineer kaise bane, civil engineer in hindi, civil engineering ka kya kaam hota hai, इत्यादि के बारे में बात किया है।

मुझे उम्मीद है की इस आर्टिकल में बताए गए सभी जानकारी आपको अच्छे लगे होंगे और अब आपको civil engineer kaise bane इसके बारे में सब कुछ पता चल गया होगा।

अगर आप मुझसे कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो आप नीचे कमेंट कर के पूछ सकते हैं और अगर कोई सुझाब देना चाहते हैं तो भी आप बता सकते हैं।

अगर आपको इस आर्टिकल से कुछ नई चीज़ें सीखने को मिली हो तो आप अपने अपने दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

अगर आप आगे भी इस तरह की और जानकारियाँ प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे इस ब्लॉग Fullformcollection.com पर आते रहें।

Read Also –


Spread the love

Leave a Comment

जानिए Kendriya Vidyalaya (KVS) के बारे में सभी जानकारी SSC CGL Exam 2022: देखें SSC CGL टियर 1 एग्जाम की डेट … Bhediya Total Box Office Collection जानिए Artificial Intelligence(AI) के बारे में पूरी जानकारी जानिए CA कैसे बने और पूरी जानकारी