MSP Full Form In Hindi – MSP के बारे में पूरी जानकारी

Spread the love

आज के इस पोस्ट में हम जानेगें की MSP ka full form, MSP meaning in hindi, MSP ka matlab, MSP full form in hindi, MSP क्या है, MSP कैसे किया जाता है, MSP के फायदे, इत्यादि।

आपने कई बार MSP के बारे में सुना होगा या आपने इसके बारे में बुक में जरूर पढ़ा होगा। MSP के बारे में कई लोगो को अच्छे से पता होगा लेकिन बहुत सारे लोगों को इसके बारे में नहीं जानते होंगे।

इसलिए आप इस आर्टिकल शुरू से लेकर अंत तक पूरा पढ़िए ताकि आप MSP के बारे में सारी बातें जान सकें और अगर आपसे कोई MSP के बारे में सवाल पूछ लें तो आप उसे सब कुछ आसानी से बता सकें।

तो चलिए जानते हैं की MSP का full form क्या होता है और इससे जुड़ी सारी जानकारियाँ।

MSP Full Form in hindi

MSP Ka Full Form –

एमएसपी का फुल फार्म “Minimum Support Price है। एमएसपी को हिंदी में “न्यूनतम समर्थन मूल्य” कहा जाता है।

MSP Full Form In English –

एमएसपी का फुल फॉर्म इंग्लिश में “Minimum Support Price” होता है।

M – Minimum

S – Support

P – Price

◆ What is the full form of MSP – Full Form of MSP is “Minimum Support Price”

MSP Full Form In hindi –

एमएसपी का फुल फॉर्म हिंदी में “न्यूनतम समर्थन मूल्य” होता है।

M – Minimum (न्यूनतम)

S – Support (समर्थन)

P – Price (मूल्य)

MSP क्या है? (MSP Kya hai)

एमएसपी यानी की Minimum Support Price एक प्रकार का गारंटीड मूल्य है जो किसानों को उनकी फसल के बदले दिया जाता है। MSP की मदद से किसानों की फसलों की कीमत कम होने पर भी उनकी आय में कोई उतार चढ़ाव नहीं आता है।

MSP के अंदर किसानों द्वारा बेची जाने वाली सभी फसल को सरकार के द्वारा एक तय दाम निर्धारित किया जाता है यानी की किसानों की फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित किया जाता है।

इस प्रकार की पद्धति किसानों के लिए काफी फ़ायदेमंद रहती है क्यूंकि सभी फसल पे सरकार के द्वारा एक तय किमत (MSP) निर्धारित की जाती है, जिस वजह से किसान के सभी फसल तय मूल्य पे बिक जाती है।

## इसे भी पढ़े –

◆ EMI का Full Form क्या है? – Click Here

◆ UPI का Full Form क्या है? – Click Here

MSP का इतिहास

MSP की शुरुआत 1964 में सबसे पहले लाल बहादुर शास्त्री के शासनकाल में हुई थी। 1 अगस्त 1964 को न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी की MSP के लिए समिति बनाई गई थी और इस तरह की शुरुआत मुख्य रूप से किसानो की हित में की गयी थी।

स्वतंत्रता के समय, भारत में खाद्यान्न उत्पादन में भारी कमी का सामना करना पड़ रहा था। जिस वजह से संघर्ष के पहले दशक के बाद, भारत ने व्यापक कृषि सुधारों के लिए जाने का फैसला किया।

सन 1966-67 में पहली बार ऐसा हुआ था जब केंद्र द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य पेश किया गया था और पहली बार गेहूं का एमएसपी 54 रुपये प्रति क्विंटल तय किया गया था।

MSP कैसे तय किया जाता है?

MSP तय करने के लिए के लिए बहुत सारे फैक्टर को ध्यान में रखना होता है जो कुछ इस प्रकार है – 

  • आपूर्ति का आधार – इससे यह तय किया जाता है की किस प्रकार से फसल का उत्पादन किया गया है।
  • उत्पादन की लागत – इससे यह तय किया जाता है की किसी फसल का उत्पादन करने की औसतन लागत क्या है।
  • फसल की वर्तमान कीमत – इसमें यह देखा जाता है की जिस फसल में MSP लगानी है उसकी वर्तमान मे देश और अन्ट्रराष्ट्रिय बाजार मे कीमत क्या चल रही है।

## इसे भी पढ़े –

◆ KYC का Full Form क्या है? – Click Here

◆ GST का Full Form क्या है? – Click Here

MSP का उद्देश्य क्या है?

MSP का उद्देश्य किसानो को एक तय दाम में फसलों की बिक्री करवाना है और बिचौलियों के शोषण से बचाकर उन्हें उनकी उपज का अच्छा मूल्य प्रदान किया जाना है।

अगर बाजार में किसी भी कारण से फसलों की कीमत कम हो जाती है तो सरकार द्वारा किसानों की फसलों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदा जाता है। जिससे किसानों को किसी भी तरह से नुकसान ना हो और उनको अपना निर्धारित आय प्राप्त हो जाए।

एमएसपी का उद्देश्य मुख्य रूप से किसानो को ज्यादा से ज्यादा लाभ पहुंचाना है और किसानो को उनकी मेहनत के अनुसार आय प्राप्त करवानी है।

MSP कैलकुलेट करने का फार्मूला क्या है?

MSP कैलकुलेट करने के लिए A1, A2, और C2 का वैल्यू निकालनी होती है।

  • A1 – शारीरिक श्रम + पशु श्रम + मशीनी लेबर + जमीनी राजस्व + अन्य कीमतें
  • A2 – कीमत A1 + जमीन का किराया
  • C2 – कीमत A1 + पारिवारिक श्रम + स्वामित्व वाली जमीन का किराया + स्थाई पूंजी पर ब्याज (जमीन छोड़कर)

## इसे भी पढ़े –

◆ ITI का Full Form क्या है? – Click Here

◆ FIR का Full Form क्या है? – Click Here

MSP के फायदे

MSP के निम्नलिखित फायदे हैं –

  • एमएसपी की मदद से किसानों की आय में बढ़ोतरी होती है।
  • अगर बाजारों में फसलों का दाम कम हो जाती है फिर भी किसानों को एक निर्धारित पैसे प्रदान की जाती है।
  • MSP की मदद से किसानों का नुकसान कम होता है।
  • एमएसपी की मदद से भारत में खाद्यान्न उत्पादन में आत्मनिर्भरता की स्थिति बनायी जा सकी है।
  • इसकी मदद से फसलों के बाजार में मूल्य स्थिरता को लागू किया जाता है।

FAQs: MSP Full Form In Hindi

Q: MSP Ka Full Form क्या है?

Ans: MSP का फुल फॉर्म “Minimum Support Price” है।

Q: क्या भारत में एमएसपी लागू करने की कोई कानूनी बाध्यता है?

Ans: भारत में एमएसपी को लागू करने की कोई कानूनी बाध्यता नहीं है।

Q: एमएसपी किन-किन फसलों पर मिलती है?

Ans: एमएसपी अनाज की 7, दलहन की 5, तिलहन की 7 और 4 तरह की कमर्शियल फसलों पे एमएसपी मिलती है। इसके अंदर आने वाले फसल के नाम जैसे – धान, गेहूं, मक्का, जौ, बाजरा, चना, तुअर, मूंग, उड़द, मसूर, सरसों, सोयाबीन, सूरजमूखी, गन्ना, कपास, जूट, आदि।

Q: एमएसपी कौन तय करता है?

Ans: MSP को Commission for Agricultural Costs and prices (CACP) यानी कृषि लागत एवं मूल्य आयोग द्वारा तय किया जाता है।

Q: MSP बिल क्या है?

Ans: यह एक ऐसी बिल है जो किसानों के हित में बनाया गया है क्यूंकि इसकी मदद से किसानो का उनके फसलो का सही दाम मिल सके एवं उनके साथ होने वाले शोषण से भी किसानो का बचाया जा सके।

## इसे भी पढ़े –

◆ CNG का Full Form क्या है? – Click Here

◆ INDIA का Full Form क्या है? – Click Here

आज आपने क्या सीखा –

आज के इस post में हमनें MSP के बारे में बहुत कुछ जाना हैं, हमने MSP ka matlab, MSP meaning in hindi, MSP ka full form, MSP full form in hindi, MSP क्या है, MSP कैसे किया जाता है, MSP के फायदे, इत्यादि के बारे में बात किया है।

मुझे उम्मीद है की इस article में बताये गए MSP से रिलेटेड सारी जानकारी आपको समझ आ गए होंगे और अब आपको MSP के बारे में सब कुछ पता चल गया होगा।

अगर आप मुझसे MSP से सम्बंधित कोई भी सवाल पूछना चाहते हैं तो आप नीचे comment कर के पूछ सकते हैं और अगर कोई सुझाब देना चाहते हैं तो भी आप बता सकते हैं।

अगर आपको इस article से कुछ नई जानकारी प्राप्त हुई हो तो आप अपने सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स और अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

इसी तरह की और जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस ब्लॉग Fullformcollection.com पर हर दिन visit करते रहें।

Leave a Comment