NCERT Ka Full Form क्या है? – जानिए NCERT के बारे में पूरी जानकारी

Spread the love

आज के इस पोस्ट में हम जानेगें की Ncert full form, Ncert ka full form, full form of  Ncert, Ncert in hindi, Ncert full form in hindi, Ncert Kya hai, Ncert का उद्देश्य क्या है, Ncert के कार्य क्या है, इत्यादि।

आप सभी ने ncert का नाम तो जरूर सुना होगा लेकिन क्या आपको ncert का फुल फॉर्म पता है और इसके बारे में सभी जानकारी पता है?

आपमें से ऐसे बहुत ही कम लोग होंगे जिसे ncert का फुल फॉर्म पता होगा और इनमे से भी ऐसे बहुत कम लोग होंगे जिन्हें ncert के बारे में सम्पूर्ण जानकारी पता होगा।

इसलिए आप इस आर्टिकल शुरू से लेकर अंत तक पूरा पढ़िए ताकि आप Ncert के बारे में सारी बातें जान सकें और अगर आपसे कोई Ncert के बारे में सवाल पूछ लें तो आप उसे सब कुछ आसानी से बता सकें।

तो चलिए जानते हैं की Ncert का full form क्या होता है और इससे जुड़ी सारी जानकारियाँ।

NCERT Ka Full Form

NCERT Ka Full Form (NCERT In Hindi)

NCERT का फुल फार्म “National Council of Educational Research and Training है। NCERT को हिंदी में “राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद कहा जाता है।

NCERT Full Form In English

NCERT का फुल फॉर्म इंग्लिश में “National Council of Educational Research and Training होता है।

N – National

C – Council

E – Educational

R – Research

T – Training

◆ What is the full form of NCERT – Full Form of NCERT is “National Council of Educational Research and Training

NCERT Full Form In hindi

NCERT का फुल फॉर्म हिंदी में राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद होता है।

NCERT क्या है? (NCERT Kya hai)

NCERT का पूरा नाम राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद है और यह भारत की education system को सुधार करने के लिए सभी तरह से मदद करता है।

NCERT कक्षा 1 से 12 तक के सभी स्कूल से जुड़े सभी मामलों पर काम करके केंद्र सरकार और राज्य सरकार को उचित सलाह देने का काम करता है।

अभी NCERT की पुस्तकों को सभी स्कूल में पढ़ाया जाता है और NCERT द्वारा पब्लिश किये गए पुस्तकों को सभी एग्जाम के लिए भी उपयोगी माना जाता है।

☞ Read Also

◆ IPS के बारे में पूरी जानकारी – Click Here

◆ UGC के बारे में पूरी जानकारी? – Click Here

NCERT का इतिहास क्या है?

NCERT की स्थापना भारत सरकार द्वारा 1961 को किया गया था और इसकी पाठ्यपुस्तकों को कक्षा 1 से 12 तक के सभी स्कूलों में पढ़ाया जाता है।

NCERT को स्थापित करने का मुख्य उद्देश्य भारत सरकार का यह था की स्कूली शिक्षा में गुणात्मक सुधार के लिए नीतियों और कार्यक्रमों पर केंद्र और राज्य सरकारों को सहायता और सलाह देना।

NCERT को भारत के 7 राष्ट्रीय केंद्रीय सरकारी शिक्षा संगठनों को मिलाकर बनाया गया जो देश में NCERT परिषद से पहले कार्यरत थे।

NCERT का उद्देश्य क्या है?

NCERT के मुख्य उद्देश्य कुछ इस प्रकार हैं –

  • NCERT का उद्देश्य बचपन की शिक्षा को बढ़ावा देना है।
  • प्राथमिक शिक्षा सार्वभौमिकरण
  • छात्रों के विचारों में सुधार करना
  • लड़कियों की बाल शिक्षा
  • शिक्षकों की शिक्षा में सुधार
  • राष्ट्रीय पाठ्य रूपरेखा को लागू करने के लिए
  • प्रतियोगी मूल्य शिक्षा
  • व्यावसायिक शिक्षा

☞ Read Also

◆ IIT के बारे में पूरी जानकारी? – Click Here

◆ CBSE के बारे में पूरी जानकारी – Click Here

NCERT के कार्य क्या है?

NCERT के कार्य कुछ इस प्रकार हैं –

  • देश के सभी विद्यार्थियों को अच्छी से अच्छी शिक्षा प्राप्त करवाना है।
  • Ncert का काम भारत के सभी विधार्थियों को प्रोत्साहन और मार्गदर्शन देना है।
  • समय के साथ-साथ शिक्षा में बदलाव करना और नई जरुरी चीज़ों को जोड़ना है।
  • Ncert का काम नई और तकनिकी शिक्षा का बढ़ावा देना है।
  • Ncert देश में शिक्षा के प्रति जागरूकता को बढ़ाने का भी काम करता है।

NCERT की पाठ्य पुस्तकें क्या है?

NCERT कक्षा 1 से 12 तक के लिए पाठ्यपुस्तकों प्रकाशित करता है और यह पुस्तकें पुरे भारत में सभी विधालयों में पढ़ाया जाता है।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) जो की एक राष्ट्रीय स्तर का बोर्ड है और इन्होने NCERT की सभी पाठ्यपुस्तकों को कक्षा 1 से 12 तक के लिए सभी स्कूलों में पढ़ना अनिवार्य किया है।

NCERT द्वारा पब्लिश की गयी किताबें सभी एग्जाम के लिए भी कारगर साबित होता है क्यंकि लगभग सभी एग्जाम के सिलेबस इस ncert की किताबों से ही आती है।

JEE Main, NEET, और UPSC जैसे राष्ट्रीय स्तर के प्रवेश परीक्षाएं का सिलेबस NCERT पाठ्यक्रम पर आधारित होती हैं। इस NCERT की पाठ्यपुस्तकों की मदद से NTSE और OLYMPIADS की तैयारी भी की जाती है।

NCERT और CBSE में क्या अंतर है?

NCERT और CBSE में बहुत ज्यादा अंतर होता है –

  • NCERT एक राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद है जबकि CBSE एक केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड है।
  • NCERT कक्षा 1 से 12 तक के लिए पाठ्यपुस्तकों प्रकाशित करता है जबकि CBSE भारत का एक राष्ट्रीय स्तर का बोर्ड है।
  • NCERT द्वारा अपना कोई शिक्षण संस्थान नहीं चलाया जाता है जबकि CBSE द्वारा शिक्षण संस्थानों चलाया जाता है।
  • NCERT द्वारा जो किताबें कक्षा 1 से 12 तक के लिए प्रकाशित किये जाते हैं वहीं किताबें भारत में सभी सीबीएसई स्कूल में पढ़ाये जाते हैं।

☞ Read Also

◆ JEE के बारे में पूरी जानकारी – Click Here

◆ School का Full Form क्या है? – Click Here

FAQs(अक्सर पूछे जाने वाले सवाल):-

Q1. NCERT का Full Form क्या है?

NCERT का फुल फार्म “National Council of Educational Research and Training है।

Q2. NCERT की स्थापना कब हुयी थी?

NCERT की स्थापना 1961 में हुयी थी।

Q3. NCERT की स्थापना किसने की थी?

NCERT की स्थापना Government of India के द्वारा किया गया है।

Q4. NCERT का मुख्यालय कहाँ हैं?

NCERT का मुख्यालय New Delhi है।

Q5. NCERT की ऑफिसियल वेबसाइट क्या है?

NCERT की ऑफिसियल वेबसाइट ncert.nic.in है।

आज आपने क्या सीखा :-

आज के इस post में हमनें Ncert के बारे में बहुत कुछ जाना हैं, हमने Ncert full form, Ncert ka full form, full form of  Ncert, Ncert in hindi, Ncert full form in hindi, Ncert Kya hai, Ncert का उद्देश्य क्या है, Ncert के कार्य क्या है, इत्यादि के बारे में बात किया है।

मुझे उम्मीद है की इस article में बताये गए Ncert से रिलेटेड सारी जानकारी आपको समझ आ गए होंगे और अब आपको Ncert के बारे में सब कुछ पता चल गया होगा।

अगर आप मुझसे Ncert से सम्बंधित कोई भी सवाल पूछना चाहते हैं तो आप नीचे comment कर के पूछ सकते हैं और अगर कोई सुझाब देना चाहते हैं तो भी आप बता सकते हैं।

अगर आपको इस article से कुछ नई जानकारी प्राप्त हुई हो तो आप अपने social media account और अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

इसी तरह की और जानकारियाँ पाने के लिए हमारे इस ब्लॉग Fullformcollection.com पर हर दिन visit करते रहें।

Leave a Comment