CA एक प्रोफेशनल कोर्स है जिसके अंदर एकाउंटिंग, फाइनेंस और टैक्स के बारे में पढ़ाया जाता है।

CA का पूरा नाम ‘Chartered accountant‘ होता है। CA की एग्जाम साल में दो बार आयोजित की जाती है।

Charted accountant को हिंदी में 'सनदी लेखाकार' बोला जाता है और CA को देशी भाषा में 'मुनीम' भी कहा जाता है।

CA की परीक्षा The Institute of Chartered Accountants of India के द्वारा आयोजित की जाती है। 

CA बनने के लिए आपको तीन चरण में एग्जाम देने होते हैं जिनमें CPT, IPCC, और Final Exam शामिल होता है।

CA की परीक्षा के लिए क्लास 12th में पास करना होना जरुरी है और आप किसी भी स्ट्रीम से पास होकर ये एग्जाम दे सकते हैं।

CA की कोर्स पूरी करने में आपको 2 लाख से 5 लाख तक फीस लगती है और ये फीस सभी कॉलेज के अलग अलग होते हैं।  

CA की कोर्स पूरा करने के बाद आप अकाउंट्स मैनेजर, मैनेजिंग डायरेक्टर, फाइनेंशियल कंट्रोलर, चीफ अकाउंटेंट, जैसे जॉब पा सकते हैं।

CA की कोर्स पूरा करने के बाद आपको लगभग 6 लाख से लेकर 30 लाख तक के बीच सैलेरी मिलती है।