द्रौपदी मुर्मू जी का जन्म 20 जून 1958 को ओड़िशा के मयूरभंज जिले के बैदापोसी गांव में  हुआ था।

द्रौपदी मुर्मू जी को 21 जुलाई 2022 को भारत की 15वें राष्ट्रपति के रूप में चुना गया है।

द्रौपदी मुर्मू जी इससे पहले 2015 से 2021 तक  झारखण्ड की राज्यपाल रह चुकी हैं।

मुर्मू जी ने श्याम चरण मुर्मू से विवाह किया और उनके दो बेटे और एक बेटी भी हुए।

दुर्भाग्यवश से उनके पति और दोनों बेटों की अलग-अलग समय पर अकाल मृत्यु हो गयी। 

द्रौपदी जी ने एक अध्यापिका के रूप में अपना करियर का शुरुआत किया था। 

इनका जीवन काफी मुश्किलों और संघर्षो सा भरा रहा है लेकिन इन्होने कभी हार नहीं मानी।

आज द्रौपदी मुर्मू जी देश की राष्ट्रपति बन चुकी हैं और पुरे देश के लिए एक प्रेरणादायक है।