NEET एक एंट्रेंस एग्जाम होता है। यह एग्जाम उनलोगों के लिए होता है जो आगे चलकर मेडिकल की फील्ड में कुछ करना चाहते हैं। 

NEET का पूरा नाम 'National Eligibility-cum Entrance Test' होता है। 

NEET को हिंदी में ‘राष्ट्रीय पात्रता-सह प्रवेश परीक्षा‘ के नाम से बोला जाता है।

नीट का एग्जाम National Testing Agency (NTA) के द्वारा करवाया जाता है। यह एग्जाम साल में 2 बार कराया जाता है।

नीट का एग्जाम सभी केटेगरी के लिए केवल तीन बार कर दिया गया है यानी आप इस एग्जाम को 3 बार से ज्यादा नहीं दे सकते हैं।

नीट का एग्जाम देने के लिए आपकी उम्र 17 से 25 साल के बीच होनी चाहिए और SC, ST वालो के लिए 17 से 30 साल के बीच। 

नीट का एग्जाम देने के लिए आपको क्लास 12th में 50% मार्क्स लाने होंगे और आपका सब्जेक्ट फिजिक्स, केमिस्ट्री, और बायोलॉजी होनी चाहिए।

नीट परीक्षा पास करने के बाद ही MBBS, BDS, MS, MD, MDS जैसे कोर्स को एक अच्छे कॉलेज से करने करने का मौका मिलता है।

नीट परीक्षा में कुल 200 प्रश्न पूछे जाते हैं जिनमे से 180 प्रश्न बनाने होते हैं और यह परीक्षा 3 घंटे का होता है।